Header Ads

शहद के फायदे एवम उपयोग

दुनिया को मिठास के स्वाद का एहसास शहद के द्वारा ही हुआ है| सबसे पुरानी मीठी या यूँ कहें मिठाई के रूप में शहद को याद किया जाता है| पहले के ज़माने में जब डॉक्टर की जगह वैद्य हुआ करते थे, तब वे हर बीमारी में जडीबुटी के साथ शहद दिया करते थे, हमारे स्वास्थ के लिए शहद बहुत लाभदायक है ये बात आज के डॉक्टर सभी मानते है| आज भी आयुर्वेद व होम्योपैथी की दुनिया में शहद का विशेष स्थान है| मीठी मीठी शहद जब कड़वी सी जडीबुटी व दवाई में घुलती है, तो कड़वाहट को दूर कर एक अनोखा स्वाद देती है| दवाई के साथ के अलावा सिर्फ शहद चाटना भी स्वास्थ के लिए बेहतर माना जाता है| शहद का रोज सेवन करने से शरीर में ऊर्जा, शक्ति मिलती है, साथ ही शरीर में स्फूर्ति आती है|

कई बार कुछ चीजें हमें अपने बचपन की याद दिलाती है, शहद भी उनमें से एक है| मुझे आज भी याद है, जब में छोटी थी तो दवाई नहीं खाया करती थी, तो मेरी मम्मी अंग्रेजी दवाई को भी मसल कर चम्मच भर शहद में घोल दिया करती थी, जिससे कड़वी दवाई मेरे लिए मीठी मिठाई की तरह बन जाती थी| शहद के द्वारा पोष्टिक तत्व भी मेरे शरीर में पहुँच जाते थे| इसके अलावा हमारे घर में रोज दूध में 1-2 चम्मच शहद घोल कर सबको दिया जाता था| शहद सुबह के नाश्ते का अहम मानी जाती है, विदेशी लोग इसे ब्रेड टोस्ट में लगाकर खाते है, लेकिन हम भारतवासी सुबह के नाश्ते में इसे पराठे में लगाकर खाते है| शहद हर किसी के घर में होती है, लेकिन सभी लोग इसके फायदे नहीं जानते है जिस वजह से वे उसे रखे रहते है उपयोग नहीं करते| आज में आपको शहद से जुडी हर छोटी बड़ी बात बताउंगी व उसके ढेर सरे फायदे बताउंगी|
शहद का इतिहास (Shahad itihas/ honey history)
हकीम वैद डॉक्टर की द्रष्टि में शहद एक दवाई है, लेकिन आम इन्सान इसे एक मीठी चीज के रूप में देखते है| बड़े बुजुर्गो की माने तो शहद एक पवित्र चीज है, जिसे भगवान के प्रसाद के रूप में चढ़ाया जाता है| शहद को दवाई के साथ साथ सौन्दर्य को निखारने के लिए भी उपयोग किया जाता है| शुरुवात में शहद के बारे में जब लोगों ने जाना था, तब ये इतनी आसानी से नहीं मिलती थी, यह कम मात्रा में थी जिस वजह से काफी महंगी थी, और सिर्फ अमीर लोग इसे खरीद पाते थे| शहद को तब तक बहुत ज्यादा इस्तेमाल किया गया, जब तक लोगों ने गन्ने से शक्कर बनाना नहीं सिखा था| शक्कर के आने बाद शहद का उपयोग बहुत कम हो गया| उस समय शक्कर शहद की तुलना में आसानी से मिल जाती थी व काफी सस्ती भी थी| जब पहली बार रोमन ने शहद को जाना था, तब वे इसका प्रयोग अपने घाव को ठीक करने में करते थे| लड़ाई के बाद कटे छीले हुइ जगह पर वे शहद के द्वारा उपचार करते थे|

शहद मधुमक्खी द्वारा फूलों के कड़ को इक्कठा करके बनाई जाती है| इसके लिए मधुमक्खी अपना एक छत्ता बनाती है, जिस पर ये शहद इक्कठी करती जाती है| मधुमक्खी शहद बनाने की प्रक्रिया पूरी कर अपना छत्ता छोड़ देती है, फिर इसे निकाल कर इसे साफ़ कर उपयोग किया जाता है| मधुमक्खी इस पूरी प्रक्रिया को कैसे अंजाम देती है, ये आज तक किसी को नहीं समझ आया है| कहते है शहद जितनी पुरानी होती है उतनी अधिक फायदेमंद होती है| आजकल बाज़ार में बहुत तरह की शहद आ गई है, कई बार ये असली नहीं होती मिलावट वाली होती है, जो मानव निर्मित होती है|
शहद में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व (339gm) –
पोष्टिक तत्वमात्रा
प्रोटीन1gm
पानी58gm
कैलोरी1031
कार्बोहाइड्रेट279gm
फाइबर678mg
शुगर278gm
विटामिन c1.7 mg
कैल्शियम20gm
फोस्फोरस14gm
आयरन1.4mg
मैग्नीशियम6.8mg
पोटाशियम176mg
जिंक746mcg
कॉपर122mcg
मैगनीज271mcg
सोडियम14mg

शहद के फायदे एवम उपयोग

Shahad ke fayde evam upyog hindi

  1. वजन कम करे – शक्कर के मुकाबले शहद में ज्यादा कैलोरी होती है, लेकिन ये शक्कर से कही ज्यादा फायदे पहुंचाती है| अगर आप वजन कम करना चाहते है, खासतौर पर पेट कम करना चाहते है, तो 1 गिलास गुनगुने पानी में आधा निम्बू, ½ चम्मच दालचीनी पाउडर व 1 चम्मच शहद मिलाकर पियें| रोजाना सुबह खली पेट पीने से आपको जल्दी फर्क समझ आएगा|
  2. वजन बढ़ाने में मददगार – शहद वजन कम करने व उसे बढ़ाने, दोनों के लिए मदद करती है| शहद को दूध में मिलाकर पीने से ये ताकत देता है, तो जो लोग बलवंत होना चाहते है वजह बढ़ाना चाहते है उन्हें ये रोज पीना चाहिए| कसरत के बाद 1 चम्मच शहद 1 गिलास दूध में डाल कर पियें|
  3. एसिडिटी मिटाए – पेट में होने वाली गैस, एसिडिटी, अल्सर जैसे रोग को भी शहद द्वारा रोकथाम की जा सकती है| ज्यादा मिर्च मसाला तला हुआ खाना खाने से पेट में जलन होने लगती है, इसे दूर करने के लिए शहद की मदद लें|
  4. प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये – शहद में antioxident तत्व अधिक होते है, जिससे ये कैंसर व दिल की बीमारी से हमारी रक्षा करने में सहायक है| रोज सुबह 1 चम्मच शहद खाने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढती है, जिससे रोग लगने का खतरा बहुत कम हो जाता है|
  5. सर्दी खांसी दूर करे – सर्दी खांसी का तो शहद रामवाण इलाज है| गले में खराश , कफ की परेशानी में शहद खाने से बहुत आराम मिलता है, ठण्ड के दिनों में इसे रोज खाना चाहिए| न्यू बोर्न व थोड़े बड़े बच्चों को दिन में एक बार शहद जरुर चटायें, इससे कफ की परेशानी से आराम मिलेगा व नींद भी अच्छी आएगी|
  6. संक्रमण मिटाए – एक शोध से सिद्ध हुआ है कि शहद एक antibactiriya व antifungal होता है, जिससे सारे संक्रमण के कीटाणु दूर रहते है|
  7. त्वचा की रंगत निखारे – जवान दिखना व गोरा होना हर लड़की का सपना होता है| शहद आपकी ये ख्वाइश पूरी कर सकता है| रोज शहद लगाने से धुप से होने वाली टैनिंग दूर होती है, रंग साफ़ होता है व चेहरे की झुरियां मिटती है| शहद एक बहुत अच्छा moisturizer भी होता है, ठण्ड के दिनों में त्वचा रुखी बेजान हो जाती है इसे ठीक करने के लिए शहद सबसे अच्छा उपाय है|
  8. डायबटीज वालों के लिए अच्छा – डायबटीज वालों को मीठा खाने की मनाही रहती है, लेकिन डॉक्टर के अनुसार वे लोग शहद का सेवन कर सकते है| इसमें गुलुकोस होता है जो ब्लडशुगर को कण्ट्रोल रखता है|
  9. अन्य शहद के फायदे (Honey Benefits) –
  • शरीर में खून का संचालन सही होता है, तो बाकि रोग भी दूर रहते है| शहद से शरीर में खून साफ़ होता है व वह पुरे शरीर में सही ढंग से प्रवाह करता है|
  • ब्लडप्रेशर कंट्रोल करने में भी शहद मदद करता है|
  • पीलिया के मरीज को पके हुए आम के रस में थोड़ी सी शहद मिलाकर खिलाएं|
  • शहद किडनी के लिए अच्छी होती है|
  • शहद चेहरे से दाग धब्बे मुहांसे दूर करता है|
  • शहद किसी घाव में लगाने से वह जल्दी ठीक होता है व दर्द भी कम होता है|
ये सब फायदे पढकर आप शहद की उपयोगिता जान गए होंगे| आज ही से शहद को अपनी डाइट में शामिल करें| बहुत से रोगों की रोकथाम के लिए शहद अच्छा स्त्रोत है|

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.