Header Ads

सानिया मिर्जा जीवन परिचय उपलब्धि अवार्ड विवाद की जानकारी

टेनिस में नाम कमाने वाली सानिया मिर्जा ने देश विदेश सब जगह अपनी छाप छोड़ी है| कम उम्र में ही सानिया ने वो कर दिखाया, जिसके लिए लोगों की पूरी ज़िन्दगी लग जाती है| सानिया एक इंटरनेशनल टेनिस खिलाड़ी है| जो इस समय womens डबल में नंबर 1 रैंकिंग पर है| 2003 से 2013 तक सानिया डबल व सिंगल दोनों में नंबर 1 की खिलाड़ी रही है| अपने पुरे करियर में सानिया सबसे ज्यादा सफल फीमेल टेनिस प्लेयर रही है, सानिया सबसे ज्यादा पेड व हाई प्रोफाइल खिलाड़ी है| हमारे देश में कम उम्र में खेल में इतना नाम कमाने वाली ये दूसरी खिलाड़ी है, पहले सचिन तेंदुलकर है, जिन्होंने कम उम्र में ही सफलता का स्वाद चख लिया था| सानिया उन लड़कियों के लिए प्रेरणा स्त्रोत है, जो खेल में अपना करियर बनाने की इच्छुक है|

सानिया मिर्जा जीवन परिचय उपलब्धि अवार्ड विवाद की जानकारी

Sania Mirza ka achievements awards controversy jeevan parichay in hindi

नामसानिया मिर्जा (टेनिस प्लेयर)
जन्म15 नवम्बर 1986मुंबई, भारत
माता पिता का नामइमरान मिर्जा, नसीमा मिर्जा
बहिन का नामअनम मिर्जा
पति का नामशोएब मलिक (पाकिस्तानी क्रिकेटर)
वजन57 kg
कद1.73 mt
सानिया के करियर की शुरुवात (Sania Mirza Initial career)
सानिया के पिता इमरान खेल के पत्रकार थे, सानिया के जन्म के बाद इनका परिवार हैदराबाद शिफ्ट हो गया था| सानिया ने 6 साल की उम्र से टेनिस खेलना शुरू कर दिया था| शुरुवात में सानिया अपने से टेनिस खेलना सिखा करती थी| इसके बाद वे महेश भूपति के पिता CK भूपति के अंडर प्रैक्टिस किया करती थी| सानिया ने सबसे पहले टेनिस खेलना हैदराबाद के निज़ाम क्लब में शुरू किया था| सानिया ने टेनिस की प्रोफेशनल ट्रेनिंग सिकंदराबाद के सिन्नेट टेनिस अकैडमी से ली थी| इसके बाद इन्होंने USA के ACE टेनिस अकैडमी में ट्रेनिंग प्राप्त की थी|
सानिया ने प्रोफेशनली अपने करियर की शुरुवात 2003 में इंडिया फेड कप टीम से की थी| सानिया की सिंगल में रैंकिंग 27 व डबल में 18 रही है, भारत में पहली बार किसी फीमेल टेनिस खिलाड़ी की इतनी ज्यादा रैंकिंग रही है|
सानिया मिर्जा उपलब्धि और अवार्ड (Sania Mirza Awards & Achivments) –
सानिया ने बहुत से रिकार्ड्स अपने नाम किये है, इन्होंने एक नया कीर्तिमान अपने नाम किया है| सानिया निरुपमा वैद्यनाथन के बाद दूसरी महिला खिलाड़ी रही है, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया ओपन में ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट खेला था| 51 साल के बाद ग्रांट स्लैम में कोई भारतीय महिला खिलाड़ी फाइनल तक पहुंची थी, इसके पहले 1952 में रीता दाबुर रनर उप रही थी| सानिया ने ग्रैंड स्लैम का टाइटल अपने नाम किया था| सानिया ने wimbledon गर्ल्स डबल टाइटल जीता था, इससे देश के साथ साथ विदेश में भी उनका नाम ऊँचा हुआ था|
2004सानिया को 2004 में भारत सरकार द्वारा अर्जुन अवार्ड से सम्मानित किया गया था| करियर की शुरुआत में ही सानिया को यह सम्मान मिल गया था|
2005womens टेनिस एसोसिएशन (WTA) ने सानिया को न्यू कमर of the year से सम्मानित किया था|
2006·         mixed डबल में गोल्ड मैडल मिला था|
·         सिंगल्स में सिल्वर अवार्ड जीता|
·         दोहा में वुमन टीम इवेंट में सिल्वर अवार्ड जीता|
2006भारत सरकार द्वारा सानिया को देश का चोथे स्थान का अवार्ड पद्मश्री से समान्नित किया गया था| सानिया सबसे छोटी उम्र की है जिन्हें यह अवार्ड मिला है| मात्र 20 साल की उम्र में सानिया को देश का सर्वोच्य सम्मान मिला|
20082008 में सानिया एशिया की नंबर  one रैंक की खिलाड़ी बन गई थी|
2009सानिया ने ऑस्ट्रेलिया ओपन में mixed डबल टाइटल जीता था, इसमें उनके पार्टनर महेश भूपति थे|
2015इस साल सानिया को खेल का सबसे बड़ा अवार्ड राजीव गाँधी खेल रत्न से सम्मानित किया गया है|
22 जुलाई 2014 में तेलन्गाना सरकार द्वारा सानिया को राज्य का ब्रांड एम्बेसडरबनाया गया| और सन 2013 मे भारत मे सानिया ने सानिया मिर्जा टेनिस अकैडेमी की सुरुवात की|
सानिया मिर्जा पर्सनल लाइफ (Sania Mirza Personal Life)– सानिया ने 2009 में अपने बचपन के दोस्त सोहराब मिर्जा से सगाई की थी, लेकिन कुछ ही समय बाद ये सगाई टूट गई और सानिया ने 12 अप्रैल 2010 में पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मालिक से शादी कर ली थी| जिसके बाद कई जगह इनका विरोध हुआ था, सबका कहना था कि सानिया एक देश द्रोही है और उन्हें अब भारत की ओर से खेलने की अनुमति ना दी जाये| सबको लग रहा था कि सानिया अब पाकिस्तान जा कर रहने लगेगी, जिससे भारत की ओर से नेशनल लेवल पर खेलना उचित नहीं, लेकिन इसका उलट सानिया ने इन सब बातों पर ध्यान नहीं दिया और वे अपने खेल पर ध्यान देती रही| शादी के बाद भी सानिया भारत की ओर से खेल रही है और अच्छा प्रदर्शन दे रही है| सानिया ने अपनी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को अलग अलग रखा| सानिया को पाकिस्तानी बहु के नाम से भी पुकारा जाता है|
सानिया मिर्जा विवाद (Sania Mirza Controvercsies) – सानिया एक मुस्लिम परिवार से है| इस्लाम में लड़कियों को हमेशा बुरखे में या पुरे ढके हुए कपड़े पहने की इदायत दी जाती है| सानिया ने जब टेनिस खेलना शुरू किया, तभी से उन पर उनके कपड़ो को लेकर सवाल उठने लगे थे| खेल के अनुसार लड़कियों को शोर्ट स्कर्ट व टीशर्ट पहनना होता है| 2005 में एक मुस्लिम संघटन ने सानिया के कपड़ो को इस्लाम धर्म के खिलाफ व corrupt बताया था| दुसरे मुस्लिम संघटन ने इसका विरोध किया और कहा वो किसी के खेल को ऐसी चीजों के चलते नहीं रोक सकते है| इसके बाद सानिया को स्पेशल सेकुरिटी दी गई थी|
सानिया देश विदेश की एक फेमस टेनिस खिलाड़ी है, ऐसे खिलाडियों से देश का नाम ऊँचा होता है| हम उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते है|

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.