Header Ads

पेट के छाले अल्सर दूर करने के घरेलु उपचार

अमेरिकन gastroenterology के अनुसार छाले पेट से जुडी हुई बहुत common बीमारी है| इसे  पेट का अल्सर या अमाशय छाला भी कहते है| यह एक तरह का घाव या चोट होती है जो पेट के अंदर बढती चली जाती है| chale आंत के उपरी भाग में होता है| अमेरिका की एक रिसर्च के अनुसार हर 10 में से 1 इन्सान ulcer की बीमारी से परेशान है| अगर पेट या आंत में छाले या घाव बढ़ने लगते है तब अल्सर की बीमारी से पीढित व्यक्ति को बहुत दर्द होता है|

कैसे होते है छाले?
हमारे पेट में एक तरह का एसिड होता है जो हमारे खाने को पचाने में मदद करता है| लेकिन ये एसिड विषैला होता है, जो हमारे पेट की परत और आंत इफ़ेक्ट करता है, इस एसिड से बचाने के लिए हमारे पेट में कफ की एक परत पेट और आंत को ढक लेती है| जब पेट कमजोर हो जाता है और आंत के पास ये एसिड आ जाता है तब वहां घाव या chala हो जाता है, इससे पेप्टिक अल्सर (peptic ulcer) उत्पन्न होता है|
 छाले होने के कारण (Reason of Chale) –
  • ज्यादा शराब पीना
  • ड्रग्स लेना
  • अंदरूनी घाव
  • रेडिएशन थेरेपी
अल्सर के लक्षण (Symptoms of Ulcer)–
  • पेट में असहनीय दर्द|
  • पेट में जलन होना
  • सीने और नाभी के बीच जलन या दर्द
  • उल्टी
 छाले में पेट में होने वाला दर्द कभी थोड़े समय के लिए होता है तो कभी बहुत अधिक देर के लिए| यह बीमारी किसी भी व्यक्ति को किसी भी उम्र में हो सकती है| यह बीमारी मर्दों की अपेक्षा औरतों को जल्दी होती है| इसका पता लगते ही इसका जल्द से जल्द उपचार करना चाहिए, नहीं तो ये जानलेवा भी हो सकती है|
छाले का पता लगते ही इसका उपचार आप घर पर ही शुरू कर सकते है| chale का उपचार हम घर पर मौजूद सामग्री से कर सकते है| हम जो home remedy हम आपको अपने आर्टिकल में बता रहे है, वो मुख्यतः पेट की परत की रक्षा एसिड से करते है| अगर आपकी बीमारी बहुत ज्यादा बढ़ गई है और अगर आप बहुत समय से परेशान है तो घर पर उपचार करने से पहले किसी डॉक्टर की सलाह जरुर ले लें|

पेट के छाले अलसर दूर करने के घरेलु उपचार
Pet ke chale ulcer door karne ke gharelu upchar in hindi


केला पेट के छाले के लिए केला बहुत इफेक्टिव होता है| केला में antibactirial कंपाउंड होते है जो इसे बढ़ाने वाले H.pylori कंपाउंड को बढ़ने से रोकता है| पेट में होने वाली एसिडिटी और गैस से भी केला बचाता है| पेट की परत को केला मजबूत बनाता है| केला 2 तरह से उपयोग में ला सकते है|
• अल्सर के उपचार के लिए रोज 2-3 केला का सेवन करें| अगर आपको केला पसंद नहीं तो आप इसका मिल्कशेक बनाकर भी पी सकते है|
• केले के पतले पतले स्लाइस कर लें, फिर इसे धुप में सूखा लें| अब इसे मिक्सी में पीस कर पाउडर बना लें| अब 2 tbsp इस पाउडर को लें और 1 tbsp इसमें शहद मिलाएं| इस मिक्सचर को दिन में 3 बार खाएं| 1 हफ्ते तक इस प्रक्रिया को करते रहें| आपको ulcer से आराम मिलेगा|
मिर्च पाउडरआश्चर्य की बात है कि मिर्च भी किसी बीमारी के उपचार में मदद कर सकती है| लेकिन ये सच है मिर्च का पाउडर छाले के उपचार के लिए उपयोग में लाया जाता है| मिर्च के कुछ उपयोग –
• 1 ग्लास गुनगुने पानी में 1/8 tsp मिर्च पाउडर मिलाएं| 2-3 दिनों तक इसे रोज दिन में 2 बार पियें|
• आप इसे सूप में डाल कर भी पी सकते है|
पत्ता गोभीpet ke chale ke upchar के लिए पत्ता गोभी बहुत अच्छा स्त्रोत है| पत्ता गोभी में लैक्टिक एसिड होता है| यह पेट में जाकर एमिनो एसिड बनाने में मदद करता है, एमिनो एसिड पेट की परत में खून से जाकर मिल जाता है| जिससे पेट की परत सुरक्षित होती है और पेट के छाले से निजात मिलता है| इसके साथ ही पत्तागोभी में विटामिन c होता है, ये भी ulcer की बीमारी से लड़ने में मदद करता है|
• आधी पत्तागोभी और 2 गाजर को काटकर थोडा पानी मिलाकर मिक्सी में पीस कर जूस बना लें| अब ½ कप जूस को खाना खाने से पहले और सोने से पहले रोज पिए| कुछ दिन तक रोज ऐसा करें| लेकिन रोज ताजा जूस बनाकर ही पियें|
नारियलनारियल में antibactirial क्वालिटी होती है, इसे खाने से छाले के कीटाणु नष्ट हो जाते है| नारियल का दूध और नारियल पानी ये सभी भी chale के रोग को दूर करते है|
• 1 हफ्ते तक रोज नारियल का पानी पियें| साथ ही रोज नारियल के कुछ टुकड़ों का सेवन करें|
• इसके अलावा आप 1 tbsp नारियल तेल सुबह और रात को 1 हफ्ते तक लें| नारियल तेल में fat(वसा) नहीं होता है| जिससे यह जल्दी पच जाता है|
मुलैठीबहुत सारी जगह बताया गया है की ulcer ke upchar के लिए मुलैठी बहुत अच्छा होता है| ये पेट और आंत की मदद करता है जिससे बहुत ज्यादा कफ उत्पन्न होता है जिससे पेट की परत की रक्षा होती है| इसका सेवन करने से अल्सर के दर्द से आराम मिलता है और वो जल्दी ठीक होता है|
• 1 कप पानी में 1 tbsp मुलैठी पाउडर को मिलाएं| इसे ढँककर रात भर के लिए रख दें| अगले दिन 1 कप पके हुए चावल में इसे मिलाएं और खाएं| हफ्ते भर ऐसा करें, आपका बहुत जल्दी आराम मिलेगा|
• मुलैठी को चाय में डाल कर दिन में 2-3 बार पियें एक हफ्ते तक|
मैथीमैथी का उपयोग बहुत से रोगों के उपचार के लिए सदियों से होते आ रहा है| इसका उपयोग छाले के उपचार के लिए भी होता है| मैथी कफ बनाकर पेट की परत की रक्षा करता है|
• 2 कप पानी में 1 tbsp मैथी को उबालें, इसे छानकर इसमें थोड़ी सी शहद मिलाएं और पियें|
• 1 tbsp मैथी पाउडर को दूध के साथ पिए|
• इसके अलावा मैथी की पतियों को पानी में उबालकर उसमें शहद मिलाएं, अब इसे दिन में 2 बार खाएं|
शहदसिर्फ शहद खाने से भी हमें अल्सर से आराम मिल सकता है| शहद में ग्लूकोस oxidase होता है जो हाइड्रोजन पेरोक्साइड बनता है| ये पेट के अल्सर के कीटाणु को मारता है, और साथ ही पेट और आंत को साफ करता है|
रोज सुबह खाली पेट 2 tbsp शहद का सेवन करें| ये पेट की परत को मजबूत करता है और अल्सर से आराम दिलाता है|
लहसूनइसमें मौजूद engimes अल्सर के कीटाणु को मारता है| दिन में 1 बार लहसून की 2-3 कलियाँ को पानी के साथ खायं| इसका सेवन कुछ दिनों तक रोज करें|
 आप chale का इलाज घर पर ही कर सकते है| ये सभी उपचार आपको 1 हफ्ते में ही अपना असर दिखायंगे| अगर आपके छाले बढ़ गए है और तकलीफ ज्यादा है, तो आप डॉक्टर की सलाह जरुर लें और उसके अनुसार उपचार करें| अगर आप किसी और समस्या से परेशान है और उसका घरेलु इलाज जानना चाहते है, तो हमसे शेयर करे|

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.