Header Ads

ट्रेन से पहले ही छूट गई जिंदगी की गाड़ी, चंद घंटों बाद ही अपनों से मिलने के लिए होने वाले थे रवाना

खिलौना, पर्स और लंच बॉक्स बनाने वाली फैक्ट्री के कामगारों के लिए रविवार की सुबह काफी मनहूस थी।

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.