Header Ads

गणतंत्र दिवस 2020: वो सिहरा देने वाली काली रात, उजड़ गया था साढ़े तीन लाख परिवारों का खिलता चमन

अपने ही गणतंत्र में... तीस साल से विस्थापन का दंश झेल रहे कश्मीरी पंडित उस काली रात को याद कर आज भी सिहर उठते हैं। धरती के स्वर्ग में चमन के उजड़ने की कहानी बयां करते आंखें बरबस ही छलक जाती हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.