Header Ads

निर्भयाः दरिंदे के छलके आंसू... जेल में मिलने आए पिता से बोला- एक बार गले तो लगा लो

तिहाड़ जेल के कसूरी वार्ड नंबर- 4 में हमेशा की तरह सन्नाटा पसरा था।

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.